Daily Current Affairs 12 November 2019

Daily Current Affairs 12 November 2019 


  • थॉमस डेननरबी होंगे फीफा में अंडर -17 महिला टीम के प्रमुख कोच:-


                                                                                                       अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (AIFF) ने महिला अंडर -17 फुटबॉल टीम के मुख्य कोच के तौर पर  स्वीडन के थॉमस डेननरबी की नियुक्ति करने की घोषणा की है। भारत, फीफा (फेडरेशन इंटरनेशनेल डी फुटबॉल एसोसिएशन) अंडर -17 महिला फुटबॉल विश्व कप 2020 की मेजबानी करेगा। थॉमस ने 2011 में फीफा विश्व कप में तीसरे स्थान हासिल करने वाली स्वीडन महिला राष्ट्रीय टीम का नेतृत्व किया था। उन्होंने फ्रांस के 2019 फीफा विश्व कप में नाइजीरियाई महिलाओं की राष्ट्रीय टीम के सुपर फाल्कन्स के कोच के रूप में काम किया। उन्हें 2018 में नाइजीरिया के कोच ऑफ़ ईयर सम्मान से भी सम्मानित  किया गया था।

  • प्रदूषण के कारण प्रसिद्ध डल झील को किया जाएगा इको-सेंसिटिव जोन घोषित:-


                                                                                                             जम्मू और कश्मीर सरकार ने श्रीनगर की प्रसिद्ध डल झील के सिकुड़ते आकार की समस्या को देखते हुए इसके आस-पास के इलाकों को पर्यावरण-संवेदनशील क्षेत्र (ESZ) घोषित करने के लिए एक 10 सदस्यीय समिति का गठन किया है। ड्रेजिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (DCI) के 2017 के आकलन के अनुसार, प्रदूषण और अतिक्रमण के कारण डल झील 22 वर्ग किलोमीटर के अपने मूल क्षेत्र से सिकुड़ कर लगभग 10 वर्ग किलोमीटर हो गई है। झील लगभग 40% तक सिकुड़ गई है। कई जगहों से घटने के कारण झील की गहराई  भी कम हो गई है।

  • केंद्र ने चार मेडिकल डिवाइस पार्क स्थापित करने की दी मंजूरी:-


                                                                                      भारत सरकार ने मेक इन इंडिया पहल को ध्यान में रखते हुए और उपचार के लिए उचित कीमत पर विश्व स्तरीय उत्पाद उपलब्ध कराने की दृष्टि से चार मेडिकल डिवाइस पार्क स्थापित करने की मंजूरी दी है। ये चार पार्क आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु और केरल में स्थापित किए जाएंगे

ये पार्क जरुरी बुनियादी ढांचा प्रदान करेंगे, जहां कंपनियां आसानी से प्लग और प्ले कर सकती हैं। यह न केवल आयात बिल में कटौती करेगा, बल्कि मानक परीक्षण सुविधाओं तक आसान पहुंच और उत्पादन की लागत को कम करने में भी मदद करेगा। सुपरकंडक्टिंग मैग्नेटिक कॉइल टेस्टिंग एंड रिसर्च के लिए कॉमन फैसिलिटी सेंटर (सीएफसी) के निर्माण के लिए आंध्र प्रदेश मेडटेक जोन की परियोजना को हाल ही में सैद्धांतिक मंजूरी दी गई थी। इस योजना में किसी भी आगामी पार्क में आम सुविधाओं को मुहैया कराने के लिए सीएफसी की स्थापना की लागत का 25 करोड़ रुपए या 70%, जो भी कम हो प्रदान करने का प्रस्ताव है।

  • नासा ने बाहरी अंतरिक्ष में विशाल विस्फोट के एक्स-रे का लगाया पता:-

                                                                                              नासा ने बाहरी अंतरिक्ष से आने वाले एक विशाल थर्मोन्यूक्लियर विस्फोट का पता लगाया है, जो पल्सर की सतह पर भारी थर्मोन्यूक्लियर फ्लैश के कारण हुआ होगा। सतह पर तारे का अवशेष था, जो बहुत समय पहले सुपरनोवा के रूप में फट गया था। विस्फोट से 20 सेकंड में इतनी ऊर्जा उत्सर्जित होती हैं जितनी सूर्य लगभग 10 दिनों में उत्सर्जित करता है।

  • दिल्ली में आयोजित किया गया "राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र -2041" सम्मलेन:-

                                                                                            भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय, ने दिल्ली में आयोजित "राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र -2041" पर उद्घाटन सम्मेलन की अध्यक्षता की। यह कॉन्क्लेव राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना बोर्ड (NCRPB) द्वारा आयोजित किया जाता है। इस सम्मलेन का विषय "कल के सबसे बड़े राजधानी क्षेत्र के लिए योजना" था। क्षेत्रीय योजना-2041 नागरिक-केंद्रित योजना होनी चाहिए, जिसमें जीवन की सहजता सुनिश्चित करने के लिए हॉलमार्क के रूप में जीवंतता हो।

  • धर्मेंद्र प्रधान ने ADIPEC प्रदर्शनी में इंडिया पवेलियन का किया उद्घाटन:-

                                                                                                   केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने अबू धाबी अंतर्राष्ट्रीय पेट्रोलियम प्रदर्शनी और सम्मेलन (ADIPEC) में इंडिया पवेलियन का उद्घाटन किया। इंडिया पवेलियन की स्थापना अपस्ट्रीम, मिडस्ट्रीम, डाउनस्ट्रीम और इंजीनियरिंग अनुभागों की 9 भारतीय तेल एवं गैस कंपनियों द्वारा भारतीय पेट्रोलियम उद्योग संघ (FIPI), हाइड्रोकार्बन महानिदेशालय (DGH) और भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के सहयोग से किया गया है।   

  • जस्टिस साही ने मद्रास उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में ली शपथ:-

                                                                                                         जस्टिस अमरेश्वर प्रताप साही ने मद्रास उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली। तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने न्यायमूर्ति साही को पद की शपथ दिलाई। न्यायमूर्ति साही ने न्यायमूर्ति वी. के. ताहिलरमानी की जगह ली, जिन्होंने 6 सितंबर को अपना पद छोड़ दिया था। इस नियुक्ति से पहले, न्यायमूर्ति साही 17 नवंबर, 2018 से पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रूप में नियुक्त थे।

Post a Comment

himexam.com

copyright@2019-2020:-himexam.com||Designed by Gaurav Patyal

Contact Form

Name

Email *

Message *

Theme images by enjoynz. Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget