Friday, April 24, 2020

Himachal Pradesh Rain, Flora and Fauna

Himachal Pradesh Rain, Flora and Fauna

Himachal Pradesh Rain, Flora and Fauna

||hp rain||hp flora||hp fauna||

Himachal Pradesh Rain, Flora and Fauna
Himachal Pradesh Rain, Flora and Fauna


वर्षा -हिमाचल प्रदेश में प्रतिवर्ष 1600 मिमी. वर्षा होती है | हिमाचल प्रदेश में प्रतिवर्ष सबसे कम वर्षा स्पीती में केवल 50 मिमी. होती है | लाहौल-स्पीती प्रदेश का सबसे शुष्क जिला है | यहाँ प्रतिवर्ष 500 मिमी. वर्षा होती है | प्रदेश में सर्वाधिक वर्षा काँगड़ा के धर्मशाला में होती है | यहाँ प्रतिवर्ष औसतन 3400 मिमी. वर्षा दर्ज की गई है |

वनस्पति -हिमाचल प्रदेश में फूल देने वाले पौधों की 3 हजार प्रजातियाँ हैं | प्रदेश के वनों को 6 क्षेत्रों में बाँटा जाता है -

(1) आर्द्र ऊष्ण कटिबंधीय वन

(2) शुष्क कटिबंधीय बन

(3) पर्वतीय उपोष्ण कटिबंधीय वन

(4) पर्वतीय शीतोष्ण कटिबंधीय वन

(5) अल्पाइन वन

(6) उप-अल्पाइन वन


जीव-जन्तु -हिमाचल प्रदेश में 32 वन्यजीव विहार, 2 राष्ट्रीय उद्यान हैं, जो प्रदेश के क्षेत्रफल का 12.63% भाग घेरते हैं | प्रदेश में स्तनधारी जीवों की 60, पक्षियों की साढ़े चार सौ व जलचरों की 500 प्रजातियाँ पाई जाती हैं |

(क) स्तनधारी जीव - हिमालयन ब्लैक बियर, कस्तूरी मृग, स्नोलैपर्ड, सांभर, घोरल, सेरो इत्यादि |

(ख) पक्षी - मोनाल फिजैंट, स्नोकॉक, कोक्लस, हार्न बिल इत्यादि |

(ग) रेंगने वाले जीव -पायथन, लिजर्ड आदि |

(घ) लुप्त होने वाले जीव - माउंटेन क्वेल, मोनाल फिजैंट, स्नोलैपर्ड, हिमालयन ब्राउन बियर |

कस्तूरी मृग को गांगुल वन्यजीव विहार में सुरक्षित रखा गया है | कुफरी में इसका प्रजनन केंद्र है |

हिमाचल प्रदेश का राज्य पक्षी - जाजुराना |

हिमाचल प्रदेश का राज्य पशु - बर्फीला तेंदुआ |

जिला सिरमौर के सुकेती में भारत का प्रथम जीवाश्म उपवन है |

👉👉National park In Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश के दो राष्ट्रीय उपवन निम्नलिखित हैं :-

1. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क - कुल्लू, 754 वर्ग किमी. (वर्ष 2014 में इसे UNESCO World Heritage सूची में शामिल किया गया है |)

2. पिन घाटी नेशनल पार्क - लाहौल-स्पीती, 675 वर्ग किमी.

वन एवं वन्यजीव अभयारण्य - हिमाचल प्रदेश के कुल क्षेत्रफल का 66.52% अर्थात 37033 वर्ग किमी. क्षेत्र वन क्षेत्र है | इसमें से 14,668 वर्ग किमी. क्षेत्र पर वन हैं जो कुल क्षेत्रफल (55,673 वर्ग किमी.) 26.35% है अर्थात् हम कह सकते हैं कि हिमाचल प्रदेश के 26.35% क्षेत्र में वास्तविक रूप से वन है | वन क्षेत्र (37033 वर्ग किमी.) के 14,668 वर्ग किमी. क्षेत्र में वन हैं जो कि वन क्षेत्र का 39.60% है |

(1) सर्वाधिक वन क्षेत्र है - लाहौल-स्पीती में (10,133 वर्ग किमी.)

(2) सबसे कम वन क्षेत्र है - हमीरपुर में (219 वर्ग किमी.)

(3) सबसे अधिक वनाच्छादित क्षेत्रफल है - चम्बा में(2,436 वर्ग किमी.)

(4) सबसे कम वनाच्छादित क्षेत्रफल है - लाहौल-स्पीती में(193 वर्ग किमी.)

(5) सर्वाधिक वन है (कुल क्षेत्रफल का) - सिरमौर (48.96%)

(6) कम वन है (कुल क्षेत्रफल का) - लाहौल-स्पीती (1.39%)

हिमाचल प्रदेश के वनों में विभिन्न प्रकार के वनों का प्रतिशत है :

1. चीड़/चील - 25.36%

2. फर/स्प्रूस - 23.72%

3. देवदार - 14.32%

4. कैल - 14.29%

5. बान ओक - 9.53%

6. साल - 3.20%

हिमाचल प्रदेश में चीड़ के वनों की सर्वाधिक मात्रा पाई जाती है | चीड़ के वन 1436 वर्ग किमी. क्षेत्र में पाए जाते हैं जबकि देवदार 811 वर्ग किमी. क्षेत्र में पाए जाते हैं |

चीड़ के वृक्ष से बिरोजा प्राप्त होता है जो तारपीन का तेल, प्लास्टिक की चीजें बनाने के काम आता है | बिलासपुर व् नाहन में बिरोजा की फैक्ट्रियां है |

राज्य-वृक्ष - देवदार

राज्य-पक्षी - जाजुराना

राज्य-पशु - बर्फीला तेंदुआ


प्राकृतिक पार्क - हिमाचल प्रदेश में प्राकृतिक पार्क तीन हैं जो निम्नलिखित है :-

(i) कुफरी, शिमला

(ii) मनाली शरणस्थली

(iii) गोपालपुर, अभयारण्य काँगड़ा

चिड़ियाघर -टुटीकंडी,शिमला |



👉👉Wildlife sanctuary In Himachal Pradesh
||Wildlife sanctuary In Himachal Pradesh||Wildlife sanctuary In hp||

 1. नाम :- बांदली
• जिला :- मंडी
• क्षेत्रफ़ल :- 41 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

2. नाम :- नारगू
• जिला :- मंडी
• क्षेत्रफ़ल :- 278 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

3. नाम :- शिकारी देवी
• जिला :- मंडी
• क्षेत्रफ़ल :- 72 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

4. नाम :- चायल
• जिला :- सोलन
• क्षेत्रफ़ल :- 109 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 21 मार्च, 1976

5. नाम :- दाड़लाघाट
• जिला :- सोलन
• क्षेत्रफ़ल :- 6 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

6. नाम :- मजाठल
• जिला :- सोलन
• क्षेत्रफ़ल :- 40 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

7. नाम :- शिल्ली (सबसे छोटा)
• जिला :- सोलन
• क्षेत्रफ़ल :- 2 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1963

8. नाम :- चूड़धार
• जिला :- सिरमौर
• क्षेत्रफ़ल :- 66 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 15 नवम्बर, 1985

9. नाम :- सिम्बलवाड़ा
• जिला :- सिरमौर
• क्षेत्रफ़ल :- 19 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 8 फरवरी, 1958

10. नाम :- रेणुका
• जिला :- सिरमौर
• क्षेत्रफ़ल :- 4 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 22 जुलाई, 1964

11. नाम :- दरांगट्टी
• जिला :- शिमला
• क्षेत्रफ़ल :- 167 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

12. नाम :- शिमला वाटर कैचमेंट
• जिला :- शिमला
• क्षेत्रफ़ल :- 10 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 29 जुलाई, 1958

13. नाम :- तालरा
• जिला :- शिमला
• क्षेत्रफ़ल :- 40 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

14. नाम :- गोविंद सागर
• जिला :- बिलासपुर
• क्षेत्रफ़ल :- 100 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 5 दिसम्बर, 1962

15. नाम :- नैना देवी
• जिला :- बिलासपुर
• क्षेत्रफ़ल :- 123 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 5 दिसम्बर, 1962

16. नाम :- गांगुल
• जिला :- चम्बा
• क्षेत्रफ़ल :- 109 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1949

17. नाम :- कुगटी
• जिला :- चम्बा
• क्षेत्रफ़ल :- 379 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

18. नाम :- सेचु तुंआ नाला
• जिला :- चम्बा
• क्षेत्रफ़ल :- 103 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

19. नाम :- तुन्डाह
• जिला :- चम्बा
• क्षेत्रफ़ल :- 64 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

20. नाम :- कायस
• जिला :- कुल्लू
• क्षेत्रफ़ल :- 14 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 26 फरवरी, 1954

21. नाम :- कालाटोप खजियार
• जिला :- चम्बा
• क्षेत्रफ़ल :- 69 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1 जुलाई, 1949

22. नाम :- कनावर (कंवर)
• जिला :- कुल्लू
• क्षेत्रफ़ल :- 61 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 26 फरवरी, 1954

23. नाम :- खोखन
• जिला :- कुल्लू
• क्षेत्रफ़ल :- 14 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 26 फरवरी, 1954

24. नाम :- मनाली
• जिला :- कुल्लू
• क्षेत्रफ़ल :- 32 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 26 फरवरी, 1954

25. नाम :- धौलाधार
• जिला :- काँगड़ा
• क्षेत्रफ़ल :- 944 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1994

26. नाम :- सैंज
• जिला :- कुल्लू
• क्षेत्रफ़ल :- 90 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1994

27. नाम :- किब्बर (सबसे बड़ा)
• जिला :- लाहौल-स्पीती
• क्षेत्रफ़ल :- 1400 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1992

28. नाम :- तिरथन
• जिला :- कुल्लू
• क्षेत्रफ़ल :- 61 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 17 जून, 1976

29. नाम :- पोंग झील (महाराणा प्रताप झील)
• जिला :- काँगड़ा
• क्षेत्रफ़ल :- 307 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1 जून, 1983

30. नाम :- रूपी भाभा
• जिला :- किन्नौर
• क्षेत्रफ़ल :- 503 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 28 मार्च, 1982

31. नाम :- रकद्दम छितकुल
• जिला :- किन्नौर
• क्षेत्रफ़ल :- 304 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962

32. नाम :- लिप्पा असरंग
• जिला :- किन्नौर
• क्षेत्रफ़ल :- 31 वर्ग किमी.
• स्थापना वर्ष :- 1962



Like Our Facebook PageClick Here
Advertisement With Us Click Here
To Join WhatsappClick Here
Online StoreClick Here

No comments: