Thursday, May 7, 2020

World Red Cross Day-8 May

World Red Cross Day-8 May

World Red Cross Day-08 may


||world red cross day||world red cross day In hindi||

world red cross day In hindi
world red cross day In hindi


विश्व रेड क्रॉस दिवस एक अंतरराष्ट्रीय दिन है जो मानव पीड़ा को कम करने, मानवीय गरिमा को बनाए रखने, जीवन की रक्षा करने, और बाढ़, महामारी और भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं और प्राकृतिक आपदाओं को रोकने के लिए समर्पित है। विश्व रेड क्रॉस दिवस के दौरान मान्यता प्राप्त मूलभूत सिद्धांत निष्पक्षता, मानवता, स्वतंत्रता, तटस्थता, स्वैच्छिकता, सार्वभौमिकता और एकता हैं। रेड क्रॉस संगठनों के सभी घटक इन सिद्धांतों को बनाए रखते हैं और उनका सम्मान करते हैं।

विश्व रेड क्रॉस दिवस उन सभी मानवीय गतिविधियों को प्रेरित करने, सुविधा प्रदान करने और बढ़ावा देने के लिए है जो कि रेड क्रॉस (आईसीआरसी) की अंतर्राष्ट्रीय समिति और राष्ट्रीय समितियों द्वारा किए गए हैं जो इसके सदस्य हैं। यह वह दिन है जब अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस आंदोलन के सदस्य पीड़ित लोगों की सहायता करने की आवश्यकता को बढ़ाते हैं। लोगों को उनके जीवन की रक्षा के साथ-साथ किसी सशस्त्र संघर्ष और हिंसा की सभी स्थितियों के पीड़ितों की गरिमा की याद दिलाई जाती है।
                                                                                 हर साल 8 मई को अंतर्राष्ट्रीय रेड क्रॉस क्रीसेंट मूवमेंट के संस्थापक हेनरी डुनंट को सम्मानित करने के लिए विश्व रेड क्रॉस दिवस के रूप में मनाया जाता है, जो इस दिन 1828 में पैदा हुए थे। ICRC से संबद्ध राष्ट्रीय सोसायटी अपने देशों में विश्व रेड क्रॉस दिवस को मनाने के लिए मनाती हैं। जीवन की रक्षा की जरूरत है। यह घटना अंतर्राष्ट्रीय सेवाओं जैसे रेड क्रॉस के माध्यम से अलग परिवार के सदस्यों के पुनर्मिलन पर प्रकाश डालती है। इसके सभी उपस्थित लोग रेड क्रॉस के संस्थापक हेनरी डुनेंट के बारे में भी सीखते हैं, और जीवन रक्षक गतिविधियों में भाग लेने के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित होते हैं।

Read More:- 8 may 2020 Current Affairs

|world red cross day||world red cross day In hindi||
Join Our Whatsapp Group

                                                                                                                                                              

No comments: