Tuesday, June 2, 2020

History of Bilaspur District

History Of Bilaspur District

History of Bilaspur District

||History of Bilaspur District|| Bilaspur District history||

History of Bilaspur District
History of Bilaspur District


1. कहलूर रियासत की स्थापना - बिलासपुर पास्ट एण्ड प्रजेंट, बिलासपुर गजेटियर और गणेश सिंह की पुस्तक चंद्रवंश विलास और शशिवंश विनोद से पुष्टि होती है कि कहलूर रियासत की नीव बीरचंद ने 697 ई. में रखी जबकि डॉ. हचिसन एण्डवोगल की पुस्तक हिस्ट्री ऑफ़ पंजाब हिल स्टेट के अनुसार बीरचंद ने 900 ई. में कहलूर रियासत की स्थापना की |

ii.बीरचंद चंदेल बुंदेलखण्ड (मध्य प्रदेश) चन्देरी के चंदेल राजपूत थे | बीरचंद के पिता हरिहर चंद के पांच पुत्र थे | बीरचंद ने सतलुज पार कर सर्वप्रथम रूहंड ठाकुरों को हराकर किला स्थापित किया जो बाद में कोट-कहलूर किला कहलाया | बीरचंद ने नैणा गुज्जर के आग्रह पर नैना देवी मंदिर की स्थापना कर उसके निचे अपनी राजधानी बनाई | पौराणिक कथाओं के अनुसार नैना देवी में सती के नैन गिरे थे | राजा बीरचंद ने 12 ठकुराइयों (बाघल, कुनिहार, बेजा, धामी, क्योंथल, कुठाड, जुब्बल, बघाट, भज्जी, महलोग, मांगल, बलसन) को अपने नियंत्रण में किया |

Read More:- Bilaspur District GK Question Answer
||History Of Bilaspur District||History Of Bilaspur District in hindi||

                          Join Our Telegram Group

No comments: