Padma Shri Recipient Lalita Vakil-Himachal Pradesh

  Padma Shri Recipient Lalita Vakil

Padma Shri Recipient Lalita Vakil


  • ललिता वकील का जन्म 14 अप्रैल 1954 को चंबा के सपड़ी मोहल्ला में हुआ था। 
  • ललिता वकील ने 1970 में चंबा से उच्च शिक्षा प्राप्त की थी ।
  •  1978-80 में ITI  चंबा से डिप्लोमा किया था । 
  • ललिता वकील  चंबा रुमाल की कढ़ाई की प्रदर्शनी के लिए 2006 में जर्मनी भी गयी थी । 
  • ललिता वकील  ने  कनाडा में कैनेडियन ट्यूलिप फेस्टिवल में भी  2011 में भाग लिया था ।
  • ललिता वकील ने चंबा रुमाल को देश विदेश में अपनी एक अलग पहचान दिलाई है। इन्ही कारणों की वजह से इन्हे आज  पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया है। 
  •  ललिता वकील को पहले भी 3 बार राष्ट्रपति अवार्ड मिल गया है। 
  • 1993 में तत्कालीन राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा और 2012 में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ललिता वकील को  शिल्प गुरु सम्मान दे चुके है। 
  • ललिता वकील को  2018 में नारी शक्ति पुरस्कार मिला। 
  • ललिता वकील को आर्ट के क्षेत्र  में पद्मश्री मिला है।

  • Lalita Vakil was born on 14 April 1954 in Sapri Mohalla, Chamba. 
  • Lalita Vakil did her higher education from Chamba in 1970.
  •  He did diploma from ITI Chamba in 1978-80. 
  • Lalita also went to Germany in 2006 for the exhibition of embroidery of Vakil Chamba Rumal. 
  • Lalita Vakil also participated in the Canadian Tulip Festival in Canada in 2011.
  •  Lalita Vakil has given Chamba Rumal a different identity in the country and abroad. Due to these reasons, he has been awarded the Padma Shri award today.
  • Lalita Vakil has received the President's Award thrice in the past. 
  • In 1993, the then President Shankar Dayal Sharma and in 2012, President Pranab Mukherjee has given the Shilp Guru Samman to Lalita Vakil.
  •  Lalita Vakil received the Nari Shakti Puraskar in 2018. 
  • Lalita Vakil has received Padma Shri in the field of Art.


Read More: -   Himachal Pradesh General Knowledge




             Join Our Telegram Group




Top Post Ad

Below Post Ad