Important Indian History Question Answer In Hindi Set-3

Important Indian History Question Answer In Hindi Set-3

||Important Indian History Question Answer In Hindi Set-3|| Indian History MCQ In Hindi Set-3||

Important Indian History Question Answer In Hindi Set-3


 21. देवी माता की पूजा सम्बन्धित थी

(a) आर्य सभ्यता के साथ

(b)भूमध्यसागरीय सभ्यता के साथ

(c)सिन्धु घाटी सभ्यता के साथ

(d)उत्तर वैदिक सभ्यता के साथ

Explanation:-सिन्धु सभ्यता में ऐसे प्रचुर साक्ष्य मिलते हैं, जिनके आधार पर यह कहा जा सकता है कि माता की उपासना वहां व्यापक रूप से प्रचलित थी। विभिन्न मृण्मूर्तियों, मुद्राओं आदि पर अंकित आकृतियों आदि से जो चित्र उभरता है, उससे नारी (शक्ति) उपासना के प्रचलन के साक्ष्य मिलते हैं।


22. सिन्धु घाटी सभ्यता का पतन नगर (बन्दरगाह) कौन-सा है?

(A)कालीबंगन

(b) लोथल

(c) रोपड़

(d) मोहनजोदड़ो

 Explanation:-सिन्धु सभ्यता का नगर लोथल गुजरात के अहमदाबाद जिले में भोगवा नदी के किनारे स्थित है। यह इस सभ्यता का एकमात्र ऐसा स्थल है, जहां से पत्तन या बंदरगाह के साक्ष्य मिले हैं।


23. सिंधु घाटी सभ्यता को आयों से पूर्व की रखे जाने का महत्त्वपूर्ण कारक है-

(a) लिपि

(b) नगर नियोजन

(c) तांबा

(d) मृदभांड

 Explanation:- लाल मृद्धांड पर चित्रित कृष्ण वर्ण आकृतियां सिंधु घाटी सभ्यता तथा धूसर एवं चित्रित धूसर मृद्भांड आर्यों से संबंधित माने गए हैं। सिंधु घाटी सभ्यता का जनजीवन आर्यों के जनजीवन से अधिक विकसित था। मृदभांडों की संरचना ही सिंधु घाटी सभ्यता तथा आर्यों के काल का विभेद करती है।


24. मूर्ति पूजा का आरंभ कब से माना जाता है?

(a)पूर्व आर्य (Pre Aryan) 

(b) उत्तर वैदिक काल

(c)मौर्य काल

(d) कुषाण काल

 Explanation:- मोहनजोदड़ों से प्राप्त एक मुहर पर अंकित देवता की आकृति तथा अनेक सैध्व पुरास्थलों से प्राप्त मातृ देवी की मूर्तियां यह प्रमाणित करती हैं कि मूर्ति पूजा का आरंभ पूर्व आर्य काल में हो चुका था।


25. चन्हूदड़ो के उत्खनन का निर्देशन किया था-

(a) जे.एच.मैके ने

(c) आई.ई.एम व्हीलर ने

(b) सर जॉन मार्शल ने

(d) सर ऑरेल स्टेन ने

 Explanation:- जे.एच. मैके ने चन्हूदड़ो के उत्खनन का निर्देशन किया था। यह स्थान मोहनजोदड़ो से लगभग 130 किमी. दक्षिण-पूर्व में स्थित है। इसकी खोज सन् 1935 में एन.जी. मजूमदार ने की थी। मैके ने उत्खनन के द्वारा यह पता लगाया कि यहां मनका बनाने का कारखाना तथा भट्ठी थी


26. रंगपुर जहां हड़प्पा की समकालीन सभ्यता थी, है-

(a) पंजाब में

(b) पूर्वी उत्तर प्रदेश में

(c) सौराष्ट्र में

(d) राजस्थान में

 Explanation:- रंगपुर में प्राक् हड़प्पा, हड़प्पा तथा उत्तर- हड़प्पाकालीन सभ्यता के साक्ष्य मिले हैं। यह गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र में स्थित है। प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर यह प्रमाणित किया गया है कि यहां के निवासी कृषक चावल, बाजरा तथा ज्वार की कृषि से संबंधित थे।


17. दधेरी एक परवर्ती हड़प्पीय पुरास्थल है-

(a) जम्मू का

(b) पंजाब का

(c) हरियाणा का

(d) उत्तर प्रदेश का

 Explanation:-दधेरी लुधियाना जिले (पंजाब) में गोविंदगढ़ के पास स्थित है। यह एक परवर्ती पुरास्थल है। यह स्थान आर्य-आगमन काल से भी संबंधित है क्योंकि यहां चित्रित धूसर मृदभांड पाए गए हैं जो आर्य संस्कृति की विशेषता है।


28. हड़प्पा सभ्यता स्थल लोथल, स्थित है-

(a) गुजरात में

(c) राजस्थान में

(b) पंजाब में

(d) सिंध में

 Explanation:- हड़प्पा सभ्यता स्थल, लोथल गुजरात के अहमदाबाद जिले में स्थित है। इस स्थल की खुदाई सन् 1957-58 में रंगनाथ राव के नेतृत्व में हुई थी।



29. निम्नलिखित में से कौन-सा सिंधु घाटी की सभ्यता से संबंधित स्थल नहीं है?

(a) कालीबंगन

(b) रोपड़

(c) पाटलिपुत्र

(d) लोथल

 Explanation:- पाटलिपुत्र का संबंध सिंधु घाटी सभ्यता से नहीं है जबकि कालीबंगन, रोपड़ तथा लोथल का संबंध सिंधु घाटी सभ्यता से है।


30. सिंधु घाटी के लोग पूजा करते थे-

a.पशुपति की

(b) इंद्र और वरूण की

c.ब्रह्मा की.

(d) विष्णु की


 Explanation:- मोहनजोदड़ो से प्राप्त एक मोहर पर एक योगी की आकृति बनी हुई है। इस मानवाकृति के सिर पर एक त्रिशूल जैसा आभूषण है। इस आकृति का संबंध रूद्र शिव से माना गया है। इससे यह प्रमाणित होता है कि सिंधु घाटी के लोग पशुपति शिव की पूजा करते थे।


||Important Indian History Question Answer In Hindi Set-3| Indian History MCQ In Hindi Set-3||

Join Himexam Telegram Group


                                 Join Our Telegram Group :- Himexam





Top Post Ad

Below Post Ad