Important Indian History Question Answer In Hindi Set-2

Important Indian History Question Answer In Hindi Set-2

||Important Indian History Question Answer In Hindi Set-2| Indian History MCQ In Hindi Set-2||

Important Indian History Question Answer In Hindi Set-2


 11. निम्नलिखित युग्मों में से कौन-से सही सुमेलित हैं?

1. लोथल : प्राचीन गोदी क्षेत्र

2.सारनाथ: बुद्ध का प्रथम धर्मोपदेश

3.राजगीर : अशोक का सिंह स्तम्भ शीर्ष

4.नालन्दा: बौद्ध अधिगम का महान् पीठ

नीचे दिये गये कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए-

कूट :

(a)1, 2, 3 और 4

(b) 3 और 4

(c)1, 2 और 4

(d) 1 और 2

Explanation:-

निम्नलिखित का सही सुमेलन इस प्रकार है।

  • प्राचीन गोदी क्षेत्र-लोथल
  • बुद्ध का प्रथम धर्मोपदेश-सारनाथ
  • अशोक का सिंह स्तम्भ -सारनाथ
  • बोद्ध अधिगम का महान पीठ- नालन्दा


12.निम्नलिखित पशुओं में से किस एक का हड़प्पा संस्कृति में मिली मुहरों और टेराकोटा कलाकृतियों में निरूपण (Representation) नहीं हुआ था?

(a) गाय

(b) हाथी

(c) गैंडा

(d) बाघ


Explanation:- मुहरों पर गाय, ऊँट, घोड़ा व शेर को प्रदर्शित नहीं किया गया था। एकश्रृंगी बैल अधिकांशत: मुहरों पर दर्शाया गया।


13.सूची 1 (प्राचीन स्थल) को सूची II (पुरात्वीय खोज) के साथ सुमेलित कीजिए और नीचे दिए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए-


सूची-I                                सूची-II

(प्राचीन स्थल)                 (पुरात्वीय खोज)

A. लोथल                        1.जुता हुआ खेत

B. कालीबंगन                   2. गोदीबाड़ा

C. धौलावीरा                    3.पक्की मिट्टी की बनी हुई हल की प्रतिकृति

D. बनवाली                      4.हड़प्पन लिपि के बड़े आकार के दस चिह्नों वाला एक शिलालेख

कूट:

(a) A -1,B-2,C-3,D-4

(b)A - 2; B -1;C-4:D-3

(c) A- 1. B-2:C-4.D-3

(d) A - 2:B-I.C-3,D-4


Explanation:- विभिन्न हड़प्पाकालीन स्थल एवं उनसे जुड़े पुरातात्विक खोज का सही सुमेलन इस प्रकार है-

स्थल              खोज

A. लोथल  -गोदीबाडा

B. कालीबंगा - जोता हुआ खेत

C. धौलावीरा- हड़प्पन लिपि के बड़े आकार के दस चिह्नों वाला शिलालेख

D. बनवाली-पकी मिट्टी की बनी हुई हल की प्रतिकृति


14. सिंधु घाटी सभ्यता के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए 

1.यह प्रमुखतः लौकिक सभ्यता थी तथा उसमें धार्मिक तत्व, यद्यपि उपस्थित था, वर्चस्वशाली नहीं था।

2. उस काल में भारत में कपास से वस्त्र बनाए जाते थे।

उपर्युक्त में से कौन-सा/कौन-से कथन सही है/हैं?

(a) केवल 1

(b) केवल 2

(c) 1 और 2 दोनों

(d) न तो 1 और न ही 2

Explanation:-  सिन्धु घाटी सभ्यता एक नगरीय एवं लौकिक सभ्यता थी यद्यपि उसमें धार्मिक तत्व विद्यमान था किन्तु वर्चस्वशाली नहीं था। इस काल में न सिर्फ आन्तरिक बल्कि वाह्य व्यापार भी उन्नत दशा में था। इस काल में सृती वस्त्र बनाए जाते थे जिसके प्रमाण हमें मोहनजोदड़ों से मिलते हैं। मेहरगढ़ से कपास की खेती करने का साक्ष्य भी मिला है।


15. निम्नलिखित में से कौन-सा/से लक्षण सिन्धु सभ्यता के लोगों का सही चित्रण करता है करते हैं?

1. उनके विशाल महल और मन्दिर होते थे।

2. वे देवियों और देवताओं, दोनों की पूजा करते थे।

3. ये युद्ध में घोड़ों द्वारा खींचे गए रथों का प्रयोग करते थे।

नीचे दिये गए कूट का प्रयोग कर सही कथन/कथनों को चुनिए।

(a) ) केवल 1 और 2

(b) केवल 2

(c) 1, 2 और 3

(d) उपर्युक्त कथनों में से कोई भी सही नहीं है

Explanation:-सिंधु सभ्यता के लोगों के विशाल महल और मन्दिर नहीं होते थे, बल्कि उनकी सभ्यता ईटों के बने शहरी घरों के कारण उल्लेखनीय थी। सिंधु सभ्यता के दौरान लोगों के घर बहुमजला होते थे। शहर के अपवाह तंत्र काफी उन्नत प्रकार के होते थे। सिंधु सभ्यता के लोग शांति प्रिय थे। वे कभी किसी युद्ध में शामिल नहीं हुए थे। ऐसा माना जाता है कि भूकम्प जैसी किसी प्राकृतिक आपदा में इस संस्कृति और सभ्यता का विनाश हुआ। कुछ इतिहासकारों का यह मानना है कि आर्यों के आक्रमण और समुद्री सतह में परिवर्तन की वजह से इनका खात्मा हुआ था। बहरहाल, युद्ध में घोड़े के उपयोग की कोई सत्यता प्रमाणित नहीं हुई है। इसके अतिरिक्त सिधु सभ्यता की मोहरों में छपा हुआ स्वस्तिक चिन्ह व जानवरों की अनुकृति उनके धर्मिक आस्था के बारे में बतलाता है। वहाँ पायी गई मूर्तियों से भूतत्वविदों को पता चला है कि उस समय लोग माँ रूपी देवी की तथा पितृरूप देवता की भी पूजा करते थे, जो शायद समग्र जाति के पिता स्वरूप थे।


16. विशाल स्नानागार (ग्रेट बाथ) कहाँ मिला था?

(a) लोथल

(b) चन्हूदड़ो

(c) हडप्पा

(d)मोहनजोदड़ो

Explanation:-11.88 मी. लंबा, 701 मी. चौड़ा तथा 2.43 मी. गहरा विशाल स्नानागार मोहनजोदड़ों में मिला है। यह विशाल स्नानागार धर्मानुष्ठान संबंधी स्नान के लिए था। मार्शल ने इसे तत्कालीन विश्व का एक आश्चर्यजनक निर्माण कहा है।


17. सिन्धु घाटी सभ्यता की लिपि कौन-सी है?

(a) ब्राह्मी

(b) तमिल

(c) खरोष्ठी

(d) अज्ञात

Explanation:- सिन्धु घाटी सभ्यता की लिपि का वाचन अभी नहीं हो सका है। उनकी लिपी 400 से अधिक अक्षर या चित्र पर आधारित चित्राक्षर प्रकार की है। ब्राह्मी तथा खरोष्टी लिपि को सर्वप्रथम 1837 ई. में जेम्स प्रिंसेप ने पढ़ा था। तमिल लिपि का उद्भव ब्राह्मी लिपि से हुआ माना जाता है।


18. सिन्धु घाटी की सभ्यता के लोग किस देवता की पूजा करते थे?

(a) विष्णु

(b) ब्रह्मा

(c) इन्द्र

(d) पशुपति

Explanation:- सिंधु घाटी के लोग पशुपति शिव की पूजा भी करते थे। इसका प्रमाण हमें मोहनजोदड़ो से प्राप्त एक मोहर, जिसपर योगी की आकृति बनी है, से प्राप्त होता है। इसके अतिरिक्त विभिन्न स्थानों से प्राप्त प्रस्तर लिंग की आकृतियों से भी हमें शिव पूजा का प्रमाण मिलता है। इसके अतिरिक्त सिन्धु सभ्यता के लोग मातृदेवी की मूर्तियों की भी पूजा करते थे।


19. सिन्धु घाटी सभ्यता के शहरों की गलियाँ थीं

(a) चौड़ी और सीधी 

(b) तंग और मैली

(c)फिसलन वाली

(d) तंग और टेढी

Explanation:-  सिन्धु घाटी सभ्यता के शहरों में गालियां एक दूसरे को समकोण पर काटती (ऑक्सफोर्ड प्रणाली) थीं। ये सड़के प्राय: चौड़ी हुआ करती थीं तथा इनके दोनों किनारों पर पक्की नालियां बनाई जाती थीं, जिन्हें बड़ी ईंटों अथवा पत्थर के टुकड़ों से ढंका जाता था।


20. मोहनजोदड़ो में सबसे बड़ा भवन कौन-सा है?

(a) विशाल स्नानागार

(b) धान्यागार

(c) सस्तम्भ हॉल

(d) दो मंजिला मकान

Explanation:-  सिन्धु घाटी सभ्यता के प्रमुख स्थल मोहनजोदड़ो से प्राप्त दो प्रमुख स्थपत्यों में विशालतम धान्यागार था, जिसकी लम्बाई 150 फीट तथा चौड़ाई 50 फीट थी। दूसरा विशाल स्थापत्य विशाल स्नानागार था जिसकी लम्बाई 39 फीट, चौड़ाई 23 फीट तथा ऊँचाई 8 फीट थी।


||Important Indian History Question Answer In Hindi Set-2| Indian History MCQ In Hindi Set-2||

Join Himexam Telegram Group


                                 Join Our Telegram Group :- Himexam





Top Post Ad

Below Post Ad